इंटरनेट पर वायरल होने वाली फेक न्यूज़ पहचानने का आसान तरीका - How to Identify Fake News on Internet

how to identify fake news
आज के समय में कोई भी खबर जाहे वो किसी भी क्यों न हो वह इन्टरनेट पर तेजी से वायरल होने लगती है। ऐसे में ये पता लगाना मुश्किल हो जाता है की कोनसी न्यूज़ असली है और कौनसी न्यूज़ नकली कई बार खबरों के चलते अफवाह भी फलने लगती है। और कई बार तो फेक खबरे साम्प्रदायिक हिंसा का कारण भी बन जाती है। ऐसे में आपको खुद ही इन खबरों पर कड़ी निगाहे बनाने की जरूरत होगी और जानना होगा कि कोनसी खबर में कितनी सच्चाई है। आप निचे दिए गए तरिको का प्रयोग करके कुछ हद तक फेक न्यूज़ को पहचान सकते है।
वेबसाइट क्लिक करने से पहले रखे ध्यान :
जो भी वेबसाइट Lo, Co.Com, Com.Co के ख़तम होती है यानि उनका URL में ऐसे शब्द अंत में आते है तो उन पर क्लिक न करे। बेकार की वेबसाइट में सनसनी फैलाने के लिए ऐसी खबरों को पेश किया जाता है।

राइटर का नाम न हो : 
यदि किसी खबर या स्टोरी में राइटर का नाम और उसकी प्रोफाइल न दी गयी हो तो भरोसा न करे।  कारण ऐसी खबरे झूठी हो सकती है।

एक ही नाम की कई स्टोरी:
अगर को कोई इन्वेस्टिगेशन वेबसाइट को देखते है तो उसमे एक ही राइटर के नाम पर दिन में कई पब्लिश स्टोरी होती है। ऐसे में आपको सतर्क हो जाना चाहिए क्योकि हो सकता है कि ये वेबसाइट सिर्फ व्यावसायिक उद्देश्य के लिए ही चलायी जा रही हो। इससे सच्चाई से काम ही लेना देना होगा।

अन्य स्रोतों से ले मदद :
आप अन्य स्रोतों जैसे वेबसाइट और गूगल की न्यूज़ से भी पता कर ले की क्या ये सच में ही एक सच्ची न्यूज़ है अगर किसी सही और नमी वेबसाइट या अख़बार में उस बात की जानकारी दी जाती है तभी खबर पर भरोसा करे अन्यथा नहीं।
उपरोक्त दिए करे आसान से निर्देशो का पालन करे आप कुछ हद तक रियल और फेक न्यूज़ के बारे में जानकारी ले सकते है। 

USB के द्वारा दो लैपटॉप को कैसे कनेक्ट करे (How to Connect To Laptop via USB Cable)

यदि आप एक लैपटॉप से दूसरे लैपटॉप में फाइल को ट्रान्सफर करना चाहते है। तो इस काम को आप एक USB केबल के माध्यम से बड़े ही आसानी से कर सकते है। USB Cable के द्वारा दो लैपटॉप्स को कनेक्ट करने पर ये आपको दोनों कंप्यूटर्स के बीच फाइल्स को ट्रांसफर करने की परमीशन देते है। इसके माध्यम से आप प्रिंटर, इन्टरनेट कनेक्शन और हार्डवेयर को शेयर कर सकते है। एक कम्प्यूटर से दूसरे कम्प्यूटर के बीच नेटवर्किंग कनेक्शन उस समय बहुत मददगार होता है जब लैपटॉप का प्रोसेसर तेजी से कार्य न कर रहा हो। एक नेटवर्किंग USB केबल या ब्रिज केबल आपको दो कम्प्यूटर के बीच तेजी से फाइल्स ट्रांसफर करने की अनुमति देता है। इसके लिए आपको नेटवर्किंग कार्ड ऐड करने या एक्सपेंसन बोर्ड इन्स्टॉल करने की भी जरुरत नहीं होती है। 
         दोनों लैपटॉप को एक दूसरे से कनेक्ट करने  के लिए सबसे पहले दोनों लैपटॉप को बंद कर दे।इसके बाद दोनों लैपटॉप में दिए गए USB का पता लगाये। आमतौर पर USB Ports लैपटॉप के साइड में होते है। नेटवर्किंग केबल के एक सिरे को लैपटॉप पर दिए गए फ्री पोर्ट से प्लग करे और अन्य लैपटॉप के फ्री पोर्ट को केबल के दूसरे सिरे से प्लग करे। अब दोनों लैपटॉप को ऑन करे। आपको लैपटॉप की स्क्रीन पर Detecting new hardware message दिखाई देगा। जोकि दिखायेगा की दोनों लैपटॉप के बीच डाटा ट्रांसफर हो सकता है। अब USB Cable को लिंक मोड में स्विच कीजिये इस तरह दोनों लैपटॉप के बीच डाटा ट्रांसफर होने लगेगा। 
स्टेप 1 : कन्ट्रोल पैनल को ओपन करना है। 
स्टेप 2 : कन्ट्रोल पैनल में Network Connections को सेलेक्ट करना है। 
स्टेप 3 : अब Create New Connection पर क्लिक करना है। 
स्टेप 4 : Set up an advanced connection को सेलेक्ट करके Next करना है। 
स्टेप 5 : अब आपको Connect directly to another computer को सेलेक्ट करके Next  क्लिक करना है। 
स्टेप 6 : अब आपको Host या Guest option में से किसी एक को सेलेक्ट करना है जैसे host कम्प्यूटर को भी सेलेक्ट कर सकते है। और next पर क्लिक करना है। 
 स्टेप 7 : अगले स्टेप में आपको अपनी usb केबल को सेलेक्ट करना है। और next पर क्लिक करना है। 
स्टेप 8 : next पर क्लिक करने के बाद आप का कनेक्शन कनेक्ट हो जायेगा जिसे आप डाटा शेयर करने के लिए प्रयोग कर सकते है।